सोमवार, 7 मार्च 2022

प्रधानाध्यापको के कार्यों की अब होगी निगरानी ।नए सत्र से लागू।देखिए ये रिपोर्ट


राज्य में राजकीयकृत , परियोजना एवं उत्क्रमित माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में पदस्थापित प्रधानाध्यापकों कार्यों एवं शिक्षकों शैक्षणिक कार्यों की अब निगरानी होगी । यह व्यवस्था नए शैक्षणिक सत्र से लागू होगी । इसका खासा प्रविधान स्कूलों की प्रबंध समिति की संशोधित नियमावली में की गई है । प्रबंध समिति को व्यापक अधिकार भी दिए गए है। समिति को शैक्षणिक वित्तीय प्रशासनिक अधिकार भी दिए गए हैं शिक्षा विभाग के मुताबिक बिहार राजकीयकृत माध्यमिक उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रबंध समिति गठन एवं संचालन नियमावली , 2022 के तहत स्कूलों के प्रधानाध्यापकों एवं शिक्षकों के कार्यकलापों पर प्रबंध समिति की निगरानी रहेगी । 


विद्यालय के शैक्षणिक वातावरण में सुधार हेतु समुचित अनशासन , शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों पर समुचित नियंत्रण शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों को समयनिष्ठ बनाना , उपस्कर एवं अन्य सामग्री का संरक्षण उनका लेखा रिक्त पदों पर नियुक्ति के लिए सक्षम प्राधिकार का ध्यान आकृष्ट कराना , शिक्षकों के गहन प्रशिक्षण की व्यवस्था विद्यालय के संचालन में अभिभावकों एवं स्थानीय गणमान्य व्यक्तियों के सहयोग की व्यवस्था विद्यालय भवन की मरम्मती एवं सफाई की व्यवस्था विद्यालय के विकास कार्यक्रमों की व्यवस्था , विकास के लिए प्राप्त अनुदान राशि का समय पर उपयोग व लेखा संधारण की व्यवस्था तथा विद्यालय के हित में अन्य आवश्यक कार्रवाई के अधिकार प्रबंध समिति को दिये गये हैं ।

0 टिप्पणियाँ: