मंगलवार, 28 सितंबर 2021

विभागीय करवाई से शिक्षको में हड़कंप।देखिए ये रिपोर्ट


बिना सूचना विद्यालय से फरार शिक्षकों के ऊपर कारवाई प्रारंभ करते हुए प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी गोरौल दिनेश प्रसाद सिंह ने मध्य विद्यालय बकसामा के प्रधानाध्यापक सहित 4 शिक्षकों का वेतन रोकते हुए स्पष्टीकरण पूछा है। वहीं विद्यालय के प्रधानाध्यापक प्रमोद कुमार के द्वारा माध्यमिक वार्षिक परीक्षा 2022 के फॉर्म भरने में अधिक राशि वसूलने को लेकर भी स्पष्टीकरण मांगा गया है। साथ ही विद्यालय का संपूर्ण प्रभार बनाकर प्रखंड संसाधन केंद्र कार्यालय को 7 दिनों के अंदर उपस्थापित करने का निर्देश प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा प्रधानाध्यापक प्रमोद कुमार को दिया गया है ।


मालूम हो कि जूनियर शिक्षक होने के बावजूद विगत कई वर्षों से प्रखंड शिक्षक प्रमोद कुमार विद्यालय के प्रभारी के पद पर जमे हुए है। स्थानीय होने के कारण बहुत कम लोग इनके खिलाफ आवाज उठा पाते हैं जिसका नतीजा है कि विद्यालय की स्थिति दिनोंदिन खराब होते जा रही है। विगत दिनों बी ई ओ के द्वारा किए गए निरीक्षण के दौरान विद्यालय की दयनीय स्थिति का खुलासा हुआ था निरीक्षण में प्रधानाध्यापक प्रमोद कुमार सहित शिक्षक उमेश कुमार , काजल किरण एवं यासमीन खातून बिना किसी सूचना के विद्यालय से गायब पाए गए थे ।इन सभी शिक्षकों का अनुपस्थित तिथि का वेतन स्थगित करते हुए बी ई ओ के द्वारा स्पष्टीकरण पूछा गया है। अनुपस्थित शिक्षकों पर कार्रवाई से फरारी शिक्षकों में हड़कंप मच गया है तो कुछ राजनीतिक पहुंच वाले फरारी शिक्षक शिक्षा अधिकारी को ही दुरुस्त कर देने की बात भी कर रहे हैं।


0 टिप्पणियाँ: