बुधवार, 2 जून 2021

अच्छी खबर।जिलावार आवंटित हुई राशि।ईपीएफ अंशदान हुवा जरी।देखिए ये रिपोर्ट।



राज्य में महादलित, दलित एवं अल्पसंख्यक अतिपिछड़ा वर्ग की 15 से 45 आयुवर्ग की असाक्षर महिलाओं को साक्षर बनाने के लिए राज्य प्रायोजित योजना चल रही है।
राज्य में महिला साक्षरता की चल रही राज्य योजना महादलित, दलित एवं अल्पसंख्यक अतिपिछड़ा वर्ग अक्षर आंचल योजना के लिए जिलों को एक अरब 30 करोड़ 56 लाख 56 हजार 270 रुपये की  राशि का आवंटन दिया गया है।

शिक्षा विभाग के विशेष सचिव सतीश चन्द्र झा, जो जन शिक्षा निदेशक भी हैं, के हस्ताक्षर से जिलों को आवंटन आदेश जारी किया गया है। जिलावार आवंटित राशि की निकासी जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों द्वारा सीएफएमएस प्रणाली के तहत की जायेगी।आवंटित राशि में से प्रति केंद्र शिक्षण सामग्री के रूप में अभ्यास पुस्तिका पर 1200 रुपये, पेंसिल पर 800 रुपये, पेंसिल कटर पर 240 रुपये, बोर्ड पर 50 रुपये, चौक पर 40 रुपये, उपस्थिति पंजी पर 25 रुपये, शिक्षा सेवक उपस्थिति पंजी पर 25 रुपये, टोला सर्वेक्षण पंजी पर 25 रुपये, तथा दरी-चटाई पर 1000 रुपये का प्रावधान किया गया है। 

कुल मिला कर यह राशि प्रति केंद्र 3405 रुपये है। जिलों को आवंटित राशि में योजना के तहत कार्यरत शिक्षा सेवकों एवं तालीमी मरकज शिक्षा सेवकों के कर्मचारी भविष्यनिधि की राशि के रूप में 15 करोड़ 47 लाख 48 हजार 880 रुपये भी शामिल हैं। इस राशि से सभी शिक्षा सेवको का ईपीएफ अंशदान जमा किया जाएगा।


 

0 टिप्पणियाँ: