रविवार, 6 जून 2021

शिक्षा विभाग ने जारी किया 600 करोड़ रुपए।स्कूलों को मिलेगा लाभ।देखिए रिपोर्ट



शिक्षक नियोजन के उलझे पेच को सुलझ जाने के बाद राज्य सरकार के शिक्षा विभाग ने अब अपना ध्यान शैक्षिक सत्र आरंभ होने के दो माह बाद  बच्चों के पास पाठ्य पुस्तकें नहीं होने की समस्या के समाधान पर केन्द्रित कर दिया है। राज्य के सरकारी स्कूलों की पहली से आठवीं तक  की कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों को किताब खरीदने की राशि देने की तैयारी आरंभ हो गयी है। 1.68 करोड़ बच्चे सरकारी प्रारम्भिक स्कूलों में हैं, जिन्हें पैसे मिलेंगे। पिछले साल किताब खरीदने के लिए बच्चों को 534 करोड़ दिए गए थे। इस साल करीब 600 करोड़ की राशि जारी की जाएगी।

समग्र शिक्षा के तहत इस एवज में स्वीकृत राशि बिहार शिक्षा परियोजना  परिषद के पास मौजूद है। शिक्षा विभाग का संकेत मिलते ही पैसे डीबीटी के लिए शैक्षिक  गठित कोषांग को ट्रांसफर कर दिए जाएगे। आपको बता दे कि सरकार जल्द जल्द किताबो की राशि बच्चो के खाते में पहुँचना चाहती ताकि उनकी पढ़ाई पर कोई असर न पड़े। हलाकि ऑनलाइन सभी किताबे मौजूद है लेकिन इससे बात नहीं बन रही है।


0 टिप्पणियाँ: