गुरुवार, 27 मई 2021

शिक्षको की उमीद पर कोर्ट की लगी मुहर।देखिए ये रिपोर्ट


एक लाख 25 हजार माध्यमिक व प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति पर लगी हाई कोर्ट की रोक हटने की उम्मीद बढ़ती लग रही है। महाधिवक्ता ललित किशोर ने शिक्षा मंत्री के अनुरोध पर एक बार फिर उक्त मामले को लेकर पटना हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का ध्यान आकृष्ट इस ओर करवाया कराया है।

राज्य सरकार के महाधिवक्ता ललित किशोर ने मुख्य न्यायाधीश से कहा है कि राज्य सरकार ने शपथ पत्र दाखिल कर अंडर टेकिंग दिया है कि दिव्यांग उम्मीदवारों को 4 फीसदी आरक्षण का लाभ दिया जाएगा। 


इसी मुद्दे को लेकर ब्लाइंड एसोसिएशन ने रिट याचिका दाखिल की है कि बहाली में दिव्यांगों के लिए निर्धारित 4 फीसदी आरक्षण का लाभ नियुक्ति की सुनिश्चित कराया जाए और इसी मुद्दे को लेकर कोर्ट ने नियुक्ति पर रोक लगा दिया है, जिसकी वजह से बहाली की पूरी प्रक्रिया स्थगित है। 


उन्होंने मुख्य न्यायाधीश से कहा कि विगत मार्च में ही मामले की सुनवाई निर्धारित थी,लेकिन कोरोना महामारी की वजह सेसुनवाई नहीं हो सकी और शिक्षकों कीबहाली नहीं हो पाई। महाधिवक्ता ने तुरंत सुनवाई का अनुरोध किया है।

कहा है कि याचिकाकर्ता की मांग सरकार ने मांग ली है, इसलिए पूरी बहाली को रोके रखने का कोई औचित्य नहीं रह गया है। इसपर, मुख्य न्यायाधीश ने कोर्ट मास्टर को सम्बंधित फाइल के अवलोकन व आवश्यक कार्रवाई हेतु पेश करने का निर्देश दिया है।ni


0 टिप्पणियाँ: