शुक्रवार, 22 मई 2020

स्कूलों की गर्मी की छुट्टी हुई रद्द। फूल टाइम होगी डियूटी।





सहरसा के जिलाधिकारी के निर्देश के आलोक में गुरुवार को जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मध्यान्ह भोजन ने संयुक्त रूप से कोरोनटाइन सेंटर के रूप में चिन्हित विद्यालयों में समुचित व्यवस्था के अनुपालन को लेकर समीक्षा बैठक किया।

समीक्षा बैठक में सभी बीआरपी, सीआरसीसी शामिल हुए ।समीक्षा के क्रम में निर्देश दिया गया कि विभागीय निर्देश के आलोक में प्रारंभिक विद्यालय में दूरदराज के महिला एवं दिव्यांग शिक्षकों को छोड़कर प्रधानाध्यापक सहित सभी शिक्षक विद्यालय में बने रहेंगे।


उन्होंने कहा कि जो विद्यालय कोरोनटाइन सेंटर के रूप में संचालित हैं वहां प्रधानाध्यापक अपने स्तर से शिफ्ट में ड्यूटी बंटवारा कर उपस्थिति सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि वैसे विद्यालय जहां पर कोरोनटाइन सेंटर नहीं है वहां प्रधानाध्यापक एवं अन्य शिक्षक 10 बजे से चार बजे तक विद्यालय में बने रहेंगे।


जिलाधिकारी ने  बताया कि कोरोना महामारी देखते हुए इस वर्ष गृष्मावकास की छुट्टी नहीं होगी। सभी सीआरसीसी प्रतिदिन अपने अपने संकुलाधीन विद्यालय का भ्रमण कर प्रखंड स्तर पर रिपोर्टिंग करेंगे।जिला स्तर पर बीईओ डीईओ कार्यालय में रिपोर्ट उपलब्ध कराएंगे।

जिलाधिकारी ने  कहा कि सभी सीआरसीसी सभी विद्यालय में साफ-सफाई, शौचालय एवं पानी की व्यवस्था सुनिश्चित रखेंगे जिससे प्रतिदिन आ रहे प्रवासी मजदूरों को सुविधानुसार रखा जा सके।


उन्होंने बताया कि सभी प्रधानाध्यापकों, शिक्षकों को इसका अनुपालन शत-प्रतिशत सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही हुई तो आपके विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी । 

0 टिप्पणियाँ: