मंगलवार, 19 नवंबर 2019

बिहार के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खुशखबरी।




बिहार में नियोजित प्रारंभिक, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। शिक्षा विभाग के प्रस्ताव पर विधि विभाग ने अपनी सहमति दे दी है जिसके बाद अब साढ़े चार लाख नियोजित शिक्षकों को भविष्य निधि (ईपीएफ) का लाभ मिलेगा।




आपको बता दे कि नियोजित शिक्षकों को भविष्य निधि का लाभ देने के लिए शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। शिक्षा विभाग के अनुसार, राज्य के सभी प्रकार के नियोजित शिक्षकों द्वारा ईपीएफ को लेकर पटना हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी। 

याचिका पर सुनवाई करते हुए पटना हाईकोर्ट ने सितंबर में राज्य सरकार को सभी नियोजित शिक्षकों को ईपीएफ और एमपी एक्ट-1952 का लाभ देने का आदेश दिया था। हाईकोर्ट ने भविष्य निधि कार्यालय के रीजनल पीएफ कमिश्नर को इसकी जिम्मेदारी दी है।




वहीं हाईकोर्ट के आदेश पर पीएफ कमिश्नर ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन को पत्र लिखकर आवश्यक कार्रवाई करने को कहा था। इसी क्रम में शिक्षा विभाग ने नियोजित शिक्षकों को ईपीएफ की सुविधा देने संबंधी प्रस्ताव भेजकर विधि विभाग से परामर्श मांगा था जिस पर मंजूरी मिल गई है। वहीं अब नियोजित को शिक्षकों ईपीएफ का लाभ मिलेगा।

बिहार के नियोजित शिक्षकों के लिए यह एक बहुत बड़ी राहत भरी खबर है जो आने वाले समय काफी लाभदायक साबित होगा।

0 टिप्पणियाँ: