रविवार, 2 जून 2019

ईद से पहले वेतन भुगतान करने का विभाग ने दिया कड़ा निर्देश।देखिए एक रिपोर्ट





राज्य में शिक्षक कर्मचारियों को चार जून तक वेतन नहीं मिला, तो संबंधित जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारियों एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों पर कारवाई होगी। राज्य में सीएफएमएस की व्यवस्था के तहत शिक्षक कर्मियों को वेतनादि का भुगतान किया जाना है।

लेकिन स्थिति यह है कि कई जिलों में शिक्षक-कर्मियों को अब तक गत मार्च को भी वेतन नहीं मिला है। जिन्हें मार्च का वेतन मिल गया है उनके समक्ष अप्रैल के वेतन के लाले हैं।



इसके मद्देनजर शिक्षा विभाग के डिपार्टमेंट ऑफिस एडमिन-सह-अपर सचिव गिरिवर दयाल सिंह ने राज्य के सभी जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारियों को हिदायत दी है कि लम्बित इम्पलाई डाटा अपडेशन कार्य अविलम्ब पूर्ण करते हुए शत-प्रतिशत कर्मियों का मार्च-अप्रैल और मई माह का वेतनादि भुगतान चार जून तक सुनिश्चित करेंगे।


विभग ने कहा है यदि किसी कर्मी का इम्पलाई डाटा अपडेशन एवं वेतन भुगतान का कार्य चार जून तक लम्बित पाया जाता  है, तो इसकी सारी जिम्मेदारी संबंधित जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को मानते हुए उनके विरुद्ध तत्काल विभागीय कारवाई होगी।


0 टिप्पणियाँ: