बुधवार, 9 जनवरी 2019

टोला सेवको और तालिमी मरकजो को नियिजित शिक्षको की तरह मिलेगा अवकाश।



पटना

प्रधान सचिव शिक्षा विभाग, बिहार पटना के पत्रांक 1570 दिनांक-23/07/2018 के आदेशानुसार शिक्षा सेवक /शिक्षा स्वयंसेवी को कलेंडर वर्ष में 12 बारह दिनों का आकस्मिक अवकाश देय होगा। आपको बता दे कि विद्यालय के प्रधानाध्यापक के द्वारा आकस्मिक अवकाश की स्वीकृति दी जायेगी। 



महिलाओं को 90 (नब) दिनों का मातृत्व अवकाश प्रधानाध्यापक की अनुशंसा पर अधोहस्ताक्षरी द्वारा स्वीकृति किया जाएगा। यह सुविधा मात्र दो बच्चों तक ही देय होगी। 



टोला सेवको और तालिमी मरकजो को साल में अधिकतम 30 (तीस) दिनों का अवैतनिक अवकाश, गंभीर स्वास्थ्य समस्या या अन्य परिस्थिति में प्रधानाध्यापक की अनुशंसा पर अधोहस्ताक्षरी द्वारा देय होगा। 



ग्रीष्मावकाश एवं अन्य बड़ी छुट्टियों में विद्यालय जाने का कार्य बंद रहेगा, परन्तु कोंचिग क्लास एवं माताओं को पढ़ाने का कार्य जारी रहेगा। 


आपको बता दे कि रविवार/उर्दू विद्यालय के लिए शुक्रवार के दिन तथा महत्वपूर्ण पर्व त्योहारों के दिन जिसमें टोला के लोग शामिल होते हो उसी दौरान कोंचिग एवं माताओं के शिक्षण का कार्य स्थगित रहेगा।



ऊपर के बटन पर क्लिक करके के पत्र डॉउनलोड करे

0 टिप्पणियाँ: