सोमवार, 26 नवंबर 2018

सुप्रीमकोर्ट के फैसले के साथ सेवानिवृत्ति की उम्र 62 वर्ष करने पर विचार करेगी सरकार-शिक्षा मंत्री



गया


प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों की सेवानिवृत्ति की उम्र 62 वर्ष करने पर राज्य सरकार विचार कर सकती है। रविवार को शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने इसकी संभावना जताई।

अभी सेवानिवृत्ति की उम्र 60 वर्ष है। अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने म्र सीमा में बढ़ोतरी की मांग की है। कृष्णनंदन वर्मा ने गया के गांधी मैदान में संघ के दो दिवसीय सम्मेलन केसमापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। कहा कि राज्य सरकार शिक्षकों का सम्मान करती है ।



बिहार में प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक की सेवानिवृत्ति की उम्र बढ़ाए जाने की मांग पर विचार किया जा सकता है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षकों को कभी कर्मचारी की श्रेणी में नहीं रखा गया। वे राष्ट्र निर्माता हैं। राज्य सरकार उनके सुख सुविधा का ख्याल करेगी।


शिक्षा मंत्री ने कहा कि  बिहार में सर्वाधिक नियोजित शिक्षक (चार लाख के करीब ) हैं। शिक्षकों को संविदा पर नियोजित करने की हमारी मंशा नहीं थी, लेकिन सीमित संसाधनों ने मजबूर किया ।राज्य सरकार नियोजित शिक्षकों के साथ अन्याय नहीं होने देगी सुप्रीमकोर्ट का जो भी फैसला होगा उसे माना जायेगा।


0 टिप्पणियाँ: