गुरुवार, 11 अक्तूबर 2018

शिक्षक नहीं करेंगे मध्यान भोजन का संचालन। बनेगा नया नियम



बुधवार को एक सभा मे शिक्षको को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षको को  मध्याहन भोजन योजना के संचालन से अलग रखा जाएगा।


उन्होंने कहा कि इससे गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रभावित हो रही है। एमडीएम योजना के क्रियान्वयन को ले जल्द ही नया गाइड लाइन जारी की जाएगी।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि निरीक्षण कार्य में अधिकारियों को
परेशानियों का सामना न करना पड़े इस उद्देश्य से बीईओ को भी वाहन उपलब्ध कराए जाएंगे।



आपको बता दे कि ये सभी बातें प्रखंड के करूप गांव में नवनिर्मित विद्यालय भवन का उदघाटन करते हुए शिक्षा मंत्री कृष्णनंद प्रसाद वर्मा ने बुधवार को कहीं।

मंत्री जी ने कहा कि  सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा मिले इसके लिए  सरकार पूरी तरह कृत संकल्पित है।



सरकार का प्रयास है कि कोई विद्यालय न तो भूमिहीन रहे और न ही भवनहीन रहे शिक्षक व छात्रों की उपस्थिति बढ़ाने को लेकर भी लगातार प्रयास जारी है।


मंत्री जी ने बताया कि विद्यालयों का निरीक्षण राज्यस्तरीय अभियान के तहत एक साथ कराया जा रहा है। साथ ही कार्य के प्रति लापरवाह शिक्षकों पर कार्रवाई भी सुनिश्चित की जा रही है।

आपको बता दे कि सरकार सिर्फ वैसे छात्रों को ही  योजना
का लाभ देगी  जिनकी उपस्थिति कम से कम 75 फीसद होगी।


अंत मे मंत्री जी ने कहा कि शिक्षको को मध्यान भोजन के संचालन से मुक्त  करने के लिए सरकार ने इस पर विचार करना शुरू कर दिया है।



0 टिप्पणियाँ: