सोमवार, 27 अगस्त 2018

नवंबर में दूर होगी शिक्षको के वेतन की समस्या।शिक्षको के लिए राहत भरी खबर।


जैसा कि आप सभी जानते है कि राज्य सरकार की सबसे बड़ी समस्या है शिक्षको का समय से वेतन भुगतान करना।और इसको लेकर राज्य सरकार कई महीनों से लगातार कोशिश कर रही है कि इस समस्या को दूर किया जा सके।

सरकार ने घोषणा किया है कि नवंबर से राज्य के साढ़े चार लाख शिक्षकों के खाते में सीधे वेतन की राशि जाएगी।

जी हाँ मैं यँहा CFMS प्रक्रिया की बात कर रहा हूँ जिसे जून में शुरू करना था लेकिन कुछ कारणों से नहीं हो पाया।

आपको बता दे कि जब तक ये CFMS प्रक्रिया शुरू नहीं होती है तब तक यानी एक अक्टूबर तक पुरानी व्यवस्था के तहत प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी और स्कूलों के प्रधानाचार्य डीडीओ बने रहेंगे और शिक्षको का भुगतान करते रहेंगे।


शिक्षा और वित्त विभाग ने CFMS की  तैयारी कर ली है। शिक्षा विभाग ने संबंधित डीडीओ से कहा कि आनेवाले दिनों में जब नई व्यवस्था लागू होगी तो पूरी सावधानी के साथ सही शिक्षकों का पहचान कर डिजिटल सिग्नेचर करना होगा।ताकि किसी गलत व्यक्ति के खाते में राशि न जाए। हालांकि, इसकी दो स्तरों पर जांच भी होगी।








CFMS प्रक्रिया के तहत पहले शिक्षक के वेतन भेजनेके पहले उनसे ओटीपी नंबर मांगने की बातहो रही थी। लेकिन इसे स्थगित कर दिया गया है।शिक्षा विभाग के  सचिव आरएल चोंगथु नेअधिकारियों से कहा कि समय पर सभी शिक्षकों के खाते में वेतन की राशि भेजना साकार की प्राथमिकता है।

बिना देर किए तकनीकी सुविधाओ से राशि भेजनेके लिए नया उपाय किया जा रहा है। पूरी व्यवस्था को आसान बनाने पर जोर है।डीडीओ को सीएफएमएस की जानकारी दी जा चुकी है। उन्हें बताया गया है कि कैसे ऑफिस सिस्टम को ठीक करेंगे।


अधिकारियों को फिर से प्रशिक्षण दिया जाएगा |जिसमें  बताया जाएगा कि कैसे  शिक्षकों की उपस्थिति
की जानकारी लेनी है।अधिकारियों को बताया गया कि शिक्षा विभाग ने नवंबर से CFMS को पूरी तरह लागू करने का लक्ष्य रखा है।,


आपको बता दे कि पहले इसे जून में लागू करने एलान किया गया था लेकिन कुछ टेक्निकल समस्या के कारण इसे समय पर चालू नहीं किया जा सका अब इसे नवंबर से चालू करने का आदेश दिया गया है।


0 टिप्पणियाँ: